नई दिल्ली। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के नेतृत्व वाली आम आदमी पार्टी(आप) पंजाब और गोवा में चुनाव लड़ने के बाद अब उनकी नजर गुजरात पर है। 2002 से ही सत्ता पर काबिज भाजपा शासित इस राज्य में आप ने सभी 182 सीटों पर दो महीने चलने वाला राजनीतिक अभियान ‘गुजरात आजादी आंदोलन’ शुरू कर दिया है।

अंग्रेजी अखबार ‘इकोनॉमिक्स टाइम्स’ के मुताबिक, इस सिलसिले में पार्टी संयोजक अरविंद केजरीवाल ने तीन घंटे तक मीटिंग की और गुजरात की तैयारियों का जायजा लिया। आपको बता दें कि इस साल के आखिरी महीने तक गुजरात में चुनाव होने की संभावना है।

अखबार के मुताबिक, आम आदमी पार्टी के गुजरात अफेयर इंचार्ज और दिल्ली के विधायक गुलाब सिंह यादव ने बताया कि इस आंदोलन का उद्देश्य ‘गुजरात के लोगों को वर्तमान सरकार में पैदा हुए डर, भ्रष्टाचार, अन्नाय और शोषण से मुक्ति दिलाना है।’

साथ ही इस अभियान के जरिए भाजपा अध्यक्ष अमित शाह पर पार्टी द्वारा निशाना साधा जाएगा। साथ ही स्थानीय सभा के जरिए पार्टी कार्यकर्ता आम लोगों तक पहुंचेगें और उनसे वर्तमान सरकार में आ रही दिक्कतों और शिकायतों को समझेंगे।

पार्टी प्रवक्ता हर्षिल नायक ने बताया कि राज्य में यह पार्टी का पहला पूर्ण राजनीतिक अभियान है, जो बूथ लेवल तक पार्टी को मजबूती प्रदान करेगा। नायक ने कहा कि इस आंदोलन के जरिए वो संगठित तरीके से गुजरात के सभी 45 हजार बूथों तक पहुंचेंगे। यह अभियान 26 मार्च तक चलेगा।

 

Author: Harlal

News Reporters in Rajasthan